Ramdev Baba Success & Marketing Strategy Of Patanjali

ramdev baba patanjali in hindi

Non Stop Ramdev Baba & Marketing Strategy Of Patanjali

नमश्कार दोस्तों मैं हूँ Shubham आप सभी का स्वागत करता हूँ इस Blog पर और हमेशा की तरह एक नई उमंग के साथ आपके लिए हाजिर हूँ। Post का Title देख कर ही आप समझ गए होंगे की आज किसके बारे में हम इस Article में चर्चा करेंगे।

तो दोस्तों Patanjali नाम से आप पिछले कुछ सालो से वाकिफ हो ही लेकिन Patanjali एक Firm है और उनकी जो तरक्की की Speed है जो अन्य Firm के Comparison से कई गुना ज्यादा है।

तो आज के Article में यही Discus करंगे की Patanjali ने ऐसी कोनसी Strategy use की जिससे बहुत सारे Companies की बोलती बंद हो गयी। तो चलिए ज्यादा समय न लेते हुए शुरुआत करते है।




दरअसल Patanjali नाम सुनते ही हमको एक चेहरा याद आता है और वो है Baba Ramdev का।  Baba Ramdev की बात करू तो वो बहुत ही शांत, निर्मल स्वाभाव के है, साथ-साथ बुद्धि से चाणाक्ष भी है।

बात 2013 की है जब मुझे पंचायती आखाड़ा बड़ा उदासीन की तरफ से Allahabad महाकुंभ में Photography करने का मौक़ा मिला था। मैं जहाँ Photography कर रहा था, वहाँ से ठीक 5-6  Feet की दूरी पर ही वह बड़े-बड़े संतो के साथ बैठे थे।

उनसे बात करने का मौका तो नहीं मिला लेकिन उनको Notice करने का अवसर भी मैंने उस समय नहीं गवाया। उसी की आधार पर मैंने आपसे अभी-अभी कहाँ की वह शांत, निर्मल स्वभाव के साथ-साथ चाणाक्ष भी है। खैर….. Patanjali आयुर्वेदा की शुरुआत Ramdev Baba और आचार्य Balkrishna ने 2006 में की थी।

2006-7 में ही इसका Revenue 50 करोड़ के करीब पहुँच गया था। ऐसा इसलिए हुआ की Baba Ramdev ने पहले से ही Market में  Positive छवि के साथ-साथ स्वदेसी छवि भी बना कर रखी है। उसी बात को ताकद बना कर, उसी बात को ढाल बना कर बाबा रामदेव ने प्रचार किया और 2 से 3 साल गुजरने के बाद Patanjali का Turn over 2010 में तक़रीबन 165 करोड़ के करीब हो गया।



Baba Ramdev इस Firm के Founder तो है ही लेकिन वह पतंजलि का Marketing Face है लेकिन जो सबसे Important Person है वो उन्ही के साथ रहने वाले आचार्य बालकृष्ण जी इस कंपनी के CEO और MD है। Research के दौरान मुझे पता चला की आचार्य बालकृष्ण 12 से 15 घंटे लगातार काम कर रहे है।

वह निर्णय लेने में ज्यादा समय नहीं लगाते है और उनकी आज की Net Worth 7 हजार करोड़ रुपये है। आचार्य बालकृष्ण कभी पढ़े लिखे नहीं है, बस थोड़ा बहुत उनको आयुर्वेदा का Knowledge था। लेकिन बड़े बड़े M.B.A. किये हुए लोग इनके निचे काम करते है। 2011 में Patanjali की Net Worth 317 करोड़ थी, वही साल 2012 लगते ही 446 करोड़ रुपये हो गयी।

इसका पीछे एक Reason था और वो था Ramdev Baba ने काले धन के खिलाफ जो आंदोलन किया था पुरे देश भर में उसी के माध्यम से Baba Ramdev सबके Focus में आ गये और Patanjali की 2013 की Income 1200 करोड़ हो गयी।

तब से लेकर आज तक Baba Ramdev और आचार्य Balkrishna ने कभी पीछे मूड कर नहीं देखा लगातार वह आगे बढ़ते ही जा रहे है। आचार्य बालकृष्ण India के 8 वे अमीर व्यक्ति है।

Marketing Strategy Of Patanjali

Patanjali ज्यादा से ज्यादा Product बहार से बनवा लेती है और अपने ब्रांड के नाम से बेचती है जैसे उनके काफी सारे Product के पीछे Manufacture Company का नाम अलग रहता है और Marketed By Patanjali ऐसा लिखा रहता है। Patanjali एक Firm है और उनके 3 Brand है।




1. Patanjali Ayurveda ltd,


2. Patanjali Divya Pharmacy,


3.  Patanjali ग्राम उद्योग,

इन तीनो Companies (Brand) के अलग-अलग Shares है। इन्होने अपनी Marketing Strategy एक ही (Patanjali) नाम से की जो सही भी है झट से फट Grow करने के लिए। लेकिन Professional Marketing के हिसाबसे यह गलत है। जैसे की Hindustan Unilever का नाम तो आपने सूना ही होगा जो बहुत बड़ा Firm है। उनके Products बहुत अलग अलग है जो ज्यादा तर लोगो को पता नहीं होगा। जैसे……

आम लोगो को लगता है की ये अलग अलग Companies होंगी लेकिन ये एक ही है। ये सब Hindustan Unilever के Products है। चलो मान के चलिए इसमें से एक Product ले लो जैसे Dove. Dove Soap अगर ख़राब निकला तो Market में सिर्फ Dove Soap की ही बदनामी होंगी लेकिन बाकी Product सुरक्षित रहेंगे।
और एक Example लेना चाहूंगा…… जैसे की Nestle

जब Maggi पर आंच आयी थी तब सिर्फ Maggi ही बदनाम हुई थी बाकी और Product नहीं। किसीने ये नहीं सोचा की Maggi में फ्रॉड है तो Nescafe coffee भी फ्रॉड ही होंगी या फिर Munch, kitkat भी ख़राब होंगी।

ठीक उसी Comparison में बात करेंगे Patanjali की। Patanjali के Products तो एक ही Branding से एक ही नाम से चलते है। लेकिन अगर गलती से एक भी Product अगर बदनाम हो गया तो लोगो में एक ही संशय फैलेगा की पतंजलि के सब Products फ्रॉड है। अभी तो ठीक चल रहा है सब लेकिन बुरा समय तो कभी बोल कर नहीं आता।




>बहुत ज्यादा तेजी से grow कर रही है उसका श्रेय आचार्य बालकृष्ण जी को जाता है और साथ में रामदेव बाबा को भी। बालकृष्ण जी के पास दिमाग था और रामदेव बाबा के पास Market में Positive Face था, उसी की Combination में आकर दोनों  एकसाथ काम कर रहे है और Patanjali को आगे बढ़ा रहे है।

सूत्रों के माध्यम से मुझे ये भी सुनने को मिला की April 2018 से कपड़ो के Business में आ रही है। अगर ऐसा होता है तो यह Lee, Denim जो भी बड़े बड़े Brand है उनके लिए खतरे की घंटी हो सकती है। क्योकि Patanjali जिस Niche में Business करती है उस Niche में सब Companies को Disrupt कर देती है। इनकी Team जितनी चालाख है उतनी ही बड़ी जिद्दी है। जैसे बाबा रामदेव ने कहाँ था की……

“Nestle का पंछी उडा देंगे,

Colgate का Gate बंद कर देंगे,

P & G के Pantene की Pant गीली कर के निकाल देंगे,

Unilever का Lever ख़राब कर देंगे।”

जो उन्होंने बोला था वह उन्होंने कर दिखया। सब MNC कंपनियो की वाट लगा दी है। दोस्तों ये बहुत ही जिद्दी किसम के आदमी है। बोल नहीं सकते कब क्या कर डालेंगे। Patanjali की इस साल 2017 की Income 10,561 करोड़ है जो पिछले साल 2016 में 5008 करोड़ थी यानी हर साल Double स्ट्रोक के साथ अपने Business को Grow कर रहे है। उनको आने वाले समय के लिए

About Shubham Zope

Hello guys i am shubham from mumbai. i am founder and chief editor of taginlife

View all posts by Shubham Zope →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *